Dr Rahil Chaudhary Interview Eye7 Hospital

Dr Rahil Chaudhary interview:- हेल्लो दोस्तों अभी बीते कुछ दिन पहले मैं Eye7 Hospital, Lajpat Nagar, New Delhi गया था| Eye7 हॉस्पिटल मैं डॉक्टर राहिल चौधरी जी से मिला और उनका इंटरव्यू लिया जिसमें मैने बहुत से प्रश्न लेज़र eye सर्जरी को लेकर डॉ. राहिल चौधरी जी से पूछे और उन्होंने उनका क्या-क्या उतर दिया आपको बहुत सारी जानकरी इस पोस्ट में मिलेगी तो ये थे हमारे कुछ महत्वपुर Eye Surgery से सम्बंदित प्रश्न-

Interview Of Dr. Rahil Chaudhary Eye7 Hospital, New Delhi

Rahil Chaudhary Eye7 Hospital Delhi
Dr Rahil Chaudhary (Eye7)
डॉ. राहिल जी contoura विज़न और EPI- contoura में क्या अंतर है?
– पहली टेक्नोलॉजी है contoura विज़न और दूसरी टेक्नोलॉजी है Epi contoura Basically इन दोनों में मशीन same होती है लेकिन contoura विज़न ऑपरेशन उन लोगों में किया जाता है जिनकी पुतली की मोटाई एक एवरेज साइज़ की होती हैं| जैसे 520, 530, 550 या इससे उपर की मोटाई होती है तो उन लोगों की contoura Vision सर्जरी की जाती है अगर Epi Contoura की बात करें तो अगर आपकी पुतली की मोटाई कम है तो उसमे हम Contoura नही कर सकते फिर उसमे हम एक स्पेशल तकनीक का इस्तेमाल करते है जिससे पतली Cornia या पुतली में भी ऑपरेशन कर सकते हैं अगर एक लाइन में कहा जाये तो Contoura Vision है नार्मल लोगों के लिए और एपी-Contoura अगर पुतली की मोटाई कम है तो उनके लिए है|

☛ डॉ. राहिल जी अगर किसी ने पहले ही कोई भी Eye Surgery करवा रखी हो चाहे Smile लेज़र, Femto Laser, Lasik लेज़र इत्यादि और किसी कारणवश उसका विज़न कम हो जाता है तो क्या वो उसके बाद दोबारा सर्जरी करवा सकता है?

लेज़र करवाने के बाद अगर आपकी आँखों में नंबर fluctuate कर जाता है या आँखों में नंबर रह जाता है तो उसको फिर हमें पोलिशिंग से ठीक करना पड़ता है  उस पोलिशिंग का नाम है Contoura Polishing जो लेटेस्ट है  तो इसको करवाने से पहले कम से कम 2-3 महीना wait करना चाहिए जितना नंबर चेंज होना है वो 3 महीने के अंदर हो जायेगा और फिर जैसे ही एक बारी नंबर स्टेबल होता है तो उसको पोलिशिंग से दोबारा ठीक किया जा सकता है चाहे आपने पहले किसी भी टेक्नोलॉजी से लेज़र क्यों न करवाया हो जैसे Femto, Smile, Bladeless इत्यादि तो पोलिशिंग से नंबर ठीक किया जा सकता है|

☛ डॉ. राहिल जी क्या लेज़र Eye सर्जरी के लिए मौसम मायने रखता है या सर्दी और गर्मी किसी भी मौसम में सर्जरी करवाई जा सकती है?

देखिये ये लोगो में एक गलत फैमि है की मौसम से रिजल्ट पर प्रभाव पड़ता है| हम लोग हर रोज ही ऑपरेशन करते है सर्दी, गर्मी, बारिश तो मौसम से कोई इफ़ेक्ट नही पड़ता है| हाँ सर्जरी के बाद जितना  हो सके पहले 2-3 दिन घर के अंदर रहे, पानी से दूर रहें, आँखों में पसीना नही जाना चाहिये तो इस वजह से कुछ लोग प्राथमिकता देते है कि सर्दियों में ऑपरेशन करवाना चाहिए| क्योंकि उस टाइम पर पसीने की प्रॉब्लम कम होती है, बारिश कम होती है इस वजह से आँखों में पानी जाने का डर नही होता|

☛ डॉ. राहिल जी लेज़र Eye सर्जरी के लिए Cornea की thickness कितनी होनी चाहिए या फिर वो हर एक इन्सान की अलग-अलग eye Condition पर निर्भर करता है? 

देखिये कॉर्निया की thickness के साथ ही हम पैदा होते है Cornea की thickness एक जेनेटिक्स determine चीज है और उसकी बहुत variation होती है 400 से लेकर 600 या कभी-कभी 650 cornea की thickness भी देखी जाती है| Laser Operation में Cornea की Thickness को जांचना बहुत ही ज्यादा जरुरी होता है क्योंकि हमें ये ध्यान रखना होता है की लेज़र ऑपरेशन में Cornea की thickness को थोडा सा कम किया जाता है तो इसे कम करते समय ध्यान रखा जाता है की वो सेफ्टी लेवल के उपर रहे| तो corneaकी thickness में अलग अलग वेरिएशन्स होने के कारण अलग अलग टाइप की लेज़र सर्जरी के option होते है| जीस व्यक्ति की cornea की thickness बहुत कम है तो उसकी लेज़र सर्जरी नही हो सकती तो ऐशे में  ICL सर्जरी करवाई जा सकती है|
☛ डॉ. राहिल जी लेज़र Eye सर्जरी से पहले कौन-कौन पूर्व -ऑपरेशन टेस्ट किये जाते है और क्या सर्जरी से पहले टेस्टों में सर्जरी के बाद प्रॉब्लम हो सकती है ये पता लगाया जा सकता है? 
देखिये सर्जरी से पहले 7-8 तरह के टेस्ट किये जाते है उन सभी टेस्टों को करने का यही कारण होता है कि अगर 1% भी हमें ये लगता है की सर्जरी में कोई risk रहेगा तो फिर हम सर्जरी नही करते क्योंकि एंड ऑफ़ दी डे चश्मा हटाने का एक कोशमेटिक प्रोसिजर है ये कोई बीमारी तो है नही की अगर चश्मा लगा है तो जिन्दगी नही कट सकती तो हमें ये बोहत ध्यान रखना होता है कि जब तक प्रोसिजर आपके लिए 100% सेफ नही है तब तक इस प्रोसिजर को न किया जाये| तो इसमें अलग-अलग तरह के टेस्ट होते है जैसे आपकी पुतली की मोटाई, आँखों की dryness का टेस्ट, आँखों के प्रेस्सर की जाँच, आँखों का नंबर, परदे की जाँच, पुतली के कुछ मैप्स लिए जाते है इत्यादि तो इन सभी टेस्ट को देखकर ये हम आईडिया लगाते हैं कि आपके लिए प्रोसिजर सेफ है तो हम तभी लेज़र करें अगर risk है तो उसको सर्जरी को अवॉयड किया जाता है|
☛  डॉ. राहिल जी आपने और डॉक्टर संजय चौधरी जी ने maximum आज तक आपके Eye7 हॉस्पिटल में कितने नंबर तक का चश्मा उतारा है ? 
हमने maximum लगभग 28 नंबर तक का चश्मा उतारा है लेकिन वैसे criteria ये रहता है कि अगर आपका नंबर 8 तक है -8 है तो हम लेज़र सर्जरी करते है -8 से लेकर -18 तक है तो ICL सर्जरी की जाती है अगर माइनस 18 से उपर है तो हम लेज़र और ICL दोनों के Combination से चश्मा हटाते हैं तो हम उसको by-optics या try-optics कहते हैं| 8 से 18 आईसीएल और 8 से कम लेज़र|
 ☛ डॉ. राहिल जी लेज़र के बाद क्या-क्या परहेज़ होते है? 
देखिये लेज़र के बाद करीब करीब 1 से 2 सप्ताह के परेहज होते है| तो पहले हपते हम कहते है कि आपको गले के निचे नहाना चाहिए, बालों को नही धोना चाहिए, साधारण तौर पर आँखों में पानी नही जाना चाहिए, आपको एक काला चश्मा दिया जाता है जिसको पहले 2 दिन 24 घन्टे पहनना होता है उसके बाद अगले पांच दिन जब आप घर से बहार जाते हो तब पहनना होता है| घर के अंदर पहनने की जरुरत नही है कोई भी हैवी काम जैसे जिम्मिंग, जोगिंग, रुन्निंग, स्विमिंग कोई adventure पोस्ट करनी है तो उसके लिए हम कहते है कि करीब 2 से 3 हप्ते रुकना चाहिए अगर ओरतें मेकअप उसे करना चाहती हैं काजल डालना चाहती है तो उसके लिए भी 2 से 3 सप्ताह रुकना चाहिए और इसके अलावा आप कलर्ड कांटेक्ट लेंस पहनना चाहते हैं तो 2 से 3 हप्ता रुकना चाहिए|
 ☛ डॉ. राहिल जी Sure Vision क्या सच में काम करता है और इससे चश्मे का नंबर कम हो जाता है? 
Sure विज़न पिनहोल इफ़ेक्ट पर काम करता है और इसका इफ़ेक्ट जब तक रहता है तब तक इन्सान इसे पहन कर रखता है जैसे ही चश्मा हटा देगा तो आंख वापिस नार्मल हो जाएगी और उसको दोबारा धुन्दला देखना शुरू हो जायेगा तो मेरी Suggestion यही है कि इसका कोई फायदा नही है अगर आप Sure विज़न पहन रहे हो तो उससे अच्छा यही है की आप चश्मा ही पहन लो| लेकिन अगर sure Vision से कोई ये comment करता है की इससे परमानेंट ही चश्मे का नंबर हट जायेगा तो ये केवल एक मिथ है आपको बेवकूफ बनाया जा रहा है|
 ☛ डॉ. राहिल जी Epi Contoura से maximum कितने नंबर तक का चश्मा हटाया जा सकता है? 
Epi contoura एक blade-less, Cut-less, Flap-less और touch लेस  सर्जरी है इससे maximum 5 नंबर तक का चश्मा हटाया जा सकता है| इसमें विज़न को रिकवर होने में contoura की बजाये थोडा ज्यादा टाइम लगता है| 2-3 सप्ताह के बाद ही आपको पूरा क्लियर दिखने लगता है| अगर आपका नंबर 5 से कम है तो Epi contoura और 5 से जयादा नंबर है तो contoura करवाया जा सकता है|
तो ये था हमारा Chaudhary Eye7 Hospital, Delhi के डॉक्टर राहिल चौधरी जी का इंटरव्यू इसी तरह की वैल्युएबल इनफार्मेशन पढने के लिए अभी सब्सक्राइब कीजिये हमारे इस ब्लॉग को|

About eyecare024@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *